Breaking News

header ads
header ads

3 Motivational story in hindi with moral for 2024 । 3 बेस्‍ट नेटवर्क मार्केटिंग मोटिवेशनल स्‍टोरीज 2024 । 3 Life changing motivational story in hindi

3 Motivational story in hindi with moral for 2024 । 3 बेस्‍ट नेटवर्क मार्केटिंग मोटिवेशनल स्‍टोरीज 2024 । 3 Life changing motivational story in Hindi

3 Motivational story in hindi with moral for 2024, 3 Life changing motivational story in hindi, best motivational story in hindi, hindi kahaniyan

विश्‍वास क्‍या होता है
Life changing motivational story in Hindi


हिन्‍दी कहानी (Best motivational story in Hindi) :-1


    एक कॉलेज में तीन दोस्‍त पढ़ते थे, उनमें से एक का नाम रहता है धन, एक का नाम रहता है ज्ञान और एक का नाम रहता है विश्‍वास।
तीनों दोस्‍त हमेशा एक दूसरे के साथ रहते हैं "थ्री ईडियट" की तरह, उन्‍होंने अपने कॉलेज की पढ़ाई पूरी की।

    एक दिन दोस्तों के बिछड़ने का टाइम आ जाता है तो तीनो एक दूसरे से सवाल करते है ज्ञान ने धन से पूछा तुम कहां मिलोगे क्यूँकि इतनी गहरी दोस्ती अगर याद आए तो हम  कहां मिलेंगे।

    तो धन ने कहा की में अमीरों के पास मिलूँगा मेहनती व्यक्ति के पास मिलूँगा, जब ज्ञान से पूछा तुम कहां मिलोगे, तो ज्ञान ने कहा की मैं कॉलेज स्कूल, यूनिवर्सिटी, गुरुकुल, ट्यूशन क्लासेस में  मिल जाऊँगा।

    जब विश्वास से दोनो ने पूछा की तुम कहां मिलोगे तो विश्वास ने सिर झुका लिया आँखों से आँसू  निकल आए  ज्ञान और  विश्वास कहने लगे की अपना पता बताने में झिझक रहे हो हमारा पता तो पूछ लिया लेकिन अपना पता बता नहीं रहे हो।
    
    तो विश्वास ने बड़े भावुक हो कर कहा दोस्त मेरी एक फितरत है अगर में चला जाऊँ तो में वापिस नही आता तो उसी समय धन और ज्ञान खड़े हो जाते हैं और विश्‍वास का हाथ पकड़ कर कहते है की हमारा तुमसे वादा है जहाँ तुम रहोगे वहीं हम दोनों होंगे और जहां तुम नहीं होगे वहाँ हम दोनो भी नहीं होंगे।

3 Motivational story in hindi with moral for 2024, 3 Life changing motivational story in hindi, best motivational story in hindi, hindi kahaniyan,

    इसलिये दोस्त ज़िंदगी में जहाँ विश्वाश है वहाँ होसला भी क़ायम है वहाँ धन भी आ जाता है वहाँ ज्ञान की भी कोई कमी नहीं रहती और ज़िंदगी में आगे बढ़ने के लिए इन तीनों की बहुत ज़रूरत होती है।

  हमारे अंदर जो विश्वास है वही हमको जीत दिलाएगा और हमारे लक्ष्य तक पहुचाएगा  इसलिए आगे बढ़ने से पहले अपने विश्वाश को हाशिल कर लीजिए, क्‍यूंकि जब हमें विश्‍वास होगा तो हम ज्ञान भी हासिल कर लेंगे और उस ज्ञान की मदद से हम धन भी हासिल कर लेंगे।

    जो भी काम कर रहे उस पर अपना 100 % दीजिए और विश्वास के साथ उस काम को कीजिए क्यूँकि ज़िंदगी की लड़ाइयाँ तेज़ और मज़बूत लोग नहीं जीतते बल्कि जीतते वही हैं जिनको विश्वाश होता है कि वह जीतेंगे।

    समाज में भी हम देखते हैं कि आज कल लोग जमीन जायदाद का बटवारा करने में लगे रहते हैं, जैसे :- दो भाई हैं तो अपने पिता की जमीन को अलग अलग बांटने में लगे रहते हैं क्‍योंकि एक दूसरे पर विश्‍वास नहीं होता इसीलिए उन्‍हें अपनी जमीन का बंटवारा करना पड़ता है और धीरे धीरे उनके पास धन सम्‍पत्ति की कमी होने लगती है,

    लेकिन जिन परिवारों में विश्‍वास होता है भाई भाई में प्रेम और विश्‍वास होता है तो भले ही उनके पास पहले धन न हो बाद में बहुत धन सम्‍पदा आने लगती है इसीलिए हमें हमेशा अपने परिवार में और खुद पर विश्‍वास करना चाहिए।

सीख (Moral of the story) -

  1. जो भी काम कर रहे हैं उस पर अपना 100 % दीजिए और विश्वास के साथ उस काम को कीजिए क्यूँकि ज़िंदगी की लड़ाइयाँ तेज़ और मज़बूत लोग नहीं जीतते बल्कि जीतते वही हैं जिनको विश्वाश होता है कि वह जीतेंगे।
  2. जिस भी फील्‍ड में हम काम कर रहें हैं जैसे:- नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस, यूटूबर या कोई भी बिजनेस जो भी हम कर रहे हैं उस पर हमें खुद पर विश्‍वास होना चाहिए।


फुटबॉल की दर्दनाक कहानी
Life changing motivational story in Hindi

3 Motivational story in hindi with moral for 2024, 3 Life changing motivational story in hindi, best motivational story in hindi, hindi kahaniyan, addastocks,

हिन्‍दी कहानी (Best motivational story in Hindi) :-2


    एक बार क्या होता है की खिलाड़ी फ़ुट्बॉल खेल रहे होते हैं और बहुत सारे लोग उनको देख रहे होते है, एक छोटा सा बच्चा भी उनको देख रहा होता है पर उसके चेहरे पर बड़ी मायूसी होती है एक बुज़ुर्ग वहाँ से निकलते तो उससे पूछते है बेटा तू परेशान क्‍यूं है। 

    इतना मायूस क्‍यूं है तो वो बच्चा कहता मुझे समझ नहीं आता इस बॉल ने इनका क्या बिगाड़ा है?  इतनी ठोकरें मार रहे हैं इतनी ठोकरें इसको पड़ रही हैं ये किस जन्‍म का बदला ले रहे हैं इसको क्‍यूं इतनी लाते मार रहे हैं।

    बुज़ुर्ग ने बच्चे के सिर पर हाथ रखा और बोले बेटा इस बॉल का सिर्फ़ इतना क़सूर है की ये अंदर से खोकला है, इसीलिए ये सब लोग इसको लातों से मार रहे हैं।

    दोस्तों जो इंसान अंदर से खोकला होता है ज़िंदगी भी उसे इसी तरह लाते मारती है इसलिए हमें रोज़ कुछ नया सीखते रहना चाइए।

    अगर ज़िंदगी में तरक़्क़ी करना चाहते हैं, जो कामयाब व्यक्ति की तरह बनना चाहते हैं तो उस व्यक्ति ने क्या क्या सीखा किन रास्‍तों पर चला वह सब काम सीख लीजिए एक दिन आप भी कामयाब व्यक्ति बन जाएंगे।

सीख (Moral of the story) -

  1. जब तक आप अन्‍दर से खोखले बने रहोगे तब तक जिंदगी आप को ठोकरें मारती रहेगी, जिस दिन आपने खुद को अन्‍दर से मजबूत बना लिया तो सारी दुनिया आपको सलाम करेगीी।
  2. खुद को मजबूत बनाने के लिए काम करो, खुद को ज्ञान से भरने के लिए अपने व्‍यापार से संबंधित किताबें पढ़ो, अपनी ताकत को पहचानो और अपने ज्ञान को बढाने के लिए लगातार प्रयास करते रहो।

कुछ बंदरों की जबरदस्‍त कहानी 
Life changing motivational story in Hindi

3 Motivational story in hindi with moral for 2024, 3 Life changing motivational story in hindi, best motivational story in hindi, hindi kahaniyan,Best hindi kahani

हिन्‍दी कहानी (Best motivational story in Hindi) :-3


    एक पेड़ था बहुत बड़ा उसके नीचे साधु महात्मा बैठते थे तो बंदर आ कर उन्हें परेशान करते थे साधु महात्मा ने एक दिन भविष्यवाणी की बोले ठीक कल दोपहर के बारह बजे जो भी बंदर इस तालाब में छलाँग लगाएगा वो आदमी बन जाएगा अगर फ़ीमेल बंदर है तो औरत बन जाएगी अगर मेल बंदर है तो आदमी बन जाएगा। 

    तो सारे बंदर कहने लगे हाँ कल बारह बजे मैं भी छलाँग लगाउँगा रात तक excitement बरक़रार थी जैसे ही सूर्य की किरणें निकली जो 500 बंदर थे उनमें से 250 ही रह गये कहते हैं हम नहि लगाएँगे ओर 250 कहते हैं हम तो लगाएँगे।

    जैसे ही 10 बजे 50 रह गए उन्होंने कहा हम छलाँग लगाएँगे बाक़ी ने कहा हम नहीं लगाएँगे  और जैसे ही 11 बजे 20 रह गए 11:30 बजे 15 रह गए 11:45 बजे तो सिर्फ 10 बंदर रह गए जैसे ही 12 बजे तो सिर्फ दो बंदर एक मेल और एक फ़ीमेल उन्होंने ही छलाँग मारी।

    बाक़ी के पेड़ पर चढ़े तो थे लेकिन छलाँग नही मारी उन्होंने छलाँग मारी तो बंदर बन कर पानी में गए थे लेकिन बाहर निकले तो एक औरत और एक आदमी बन कर बाहर निकले बाबा जी का धन्यवाद किया।

    दूसरे बंदर देखते रह गए जब बाबाजी ने बाकी के बंदरों से पूछा की तुमने छलाँग क्‍यों नहीं मारी तो कहते हैं की हमने सोचा इंसान ना बने तो, तो बाबाजी कहते हैं अगर पानी में छलांग लगाने के बाद तुम इंसान नहीं बनते तो क्या बंदर तो तुम थे ही।
    

सीख (Moral of the story) -

  1. सीख दोस्त हम अपनी लाइफ़ में डिसीजन तो ले लेते हैं पर उस पर ऐक्शन नहीं ले पाते तो हमें डिसीजन ले के उस पर ऐक्शन लेना ज़रूरी है।
  2. कई बार लोग सोचते हैं कि अगर हम बिजनेस करने में असफल हो गए तो, अगर हम बिजनेस में सफल नहीं हो पाए तो हम क्‍या करेंगे, हमें ये सोचना चाहिए अगर हम सफल नहीं हुए तो हम जिस पोजीशन पर हैं उस पर तो हम रहेंगे ही।
  3. हमें आगे बढने के लिए हमेशा प्रयास करते रहना चाहिए, हमें सफल होने का जो भी रास्‍ता मिले उस पर हमें एक बार जरूर चल कर देखना चाहिए।

इसी तरह की और अच्‍छी सीख देने वाली नेटवर्क मार्केटिंग कहानी के लिए यहां पर क्लिक करें

आपको हमारी ये " Motivational Stories in Hindi / Motivational Stories" कैसी लगी ? कमेंट में अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें।

best dividend stock 2023, addastocks, best dividend share in India, best dividend paying stocks 2023,

    स्‍टॉक मार्केट (Stock market) में भी एक ऐसी ही कहानी (Story) है जो आपको जरूर जानना चाहिए। उसको आप addastocks.com पर जाकर पढ़ सकते हैं कि शेयर मार्केट में कैसे एक इंसान सफल हुआ और फिर सीखने और ध्‍यान न देने के कारण असफल हो जाता है।


यह भी पढ़ें:-










तोते का सूप । एकता की ताकत। Motivational story in hindi 2023 । best Hindi Kahaniyan 2023

जो हुआ अच्‍छा हुआ  ।Story in Hindi with moral । जो होता है अच्‍छे के लिए होता है। Hindi Motivational story. 





बंदर को कैसे पकडते हैं ?

सकारात्‍मक नजरिया । Positive attitude. 


Thanks to visit addastocks.com

Post a Comment

0 Comments