Breaking News

header ads
header ads

रिच डैड पूअर डैड पढने के बाद भी 90 प्रतिशत लोग फैल क्‍यों हो जाते हैं ? Why 90% People fail

 रिच डैड पूअर डैड बुक पढ़ने के बाद भी 90  लोग फैल क्‍यों हो जाते हैं ?
Rich Dad Poor Dad Book Summary

Rich dad poor dad book, addastocks, sharemarket, why people fail

रिच डैड पूअर डैड बुक (Rich dad poor dad book)  

          दोस्‍तों इस किताब के शीर्षक(Title) से ही पता चलता है कि यह किताब कितनी खास है इस किताब में दो अलग -अलग नजरियों के बारे में बताया गया है कि एक गरीब व्‍यक्ति अपने बच्‍चे को क्‍या सलाह देता है और अमीर व्‍यक्ति अपने बच्‍चे को क्‍या सलाह देता है । 

    यह एक ऐसी किताब है जिसको हर वो इंसान पढता है जो अमीर बनना चाहता है। यह किताब एक अमेरिकी लेखक रॉबर्ट टी. कियोसाकी द्वारा लिखी गई जो कि बेल्‍यू इन्‍वेस्टिंग के बारे में सिखाती है कि कैसे एक साधारण व्‍यक्ति इस किताब में बताये गए नियमों का पालन करके अमीर बन सकता है ।

    "रिच डैड पुअर डैड" रॉबर्ट कियोसाकी द्वारा लिखित एक व्यक्तिगत वित्त पुस्तक(Financial book) है। पुस्तक वित्तीय साक्षरता(Financial literacy) और निष्क्रिय आय धाराओं(Passive Income Streams) के निर्माण के महत्व को बताती है। पुस्तक के कुछ प्रमुख बिंदु निम्‍न हैं:

  1. वित्तीय शिक्षा का महत्व(Importance of financial education) :- कियोसाकी केवल पारंपरिक शिक्षा पर निर्भर रहने के बजाय पैसे और निवेश के बारे में सीखने के महत्व पर बल देते हैं।
  2. संपत्ति और देनदारियों के बीच का अंतर(The difference between assets and liabilities) :- पुस्तक पाठकों को ऐसी संपत्तियों के निर्माण पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रोत्साहित करती है, जो पैसे खर्च करने वाली देनदारियों को जमा करने के बजाय आय उत्पन्न करती हैं।
  3. निष्क्रिय आय के निर्माण का महत्व (The importance of building passive income) :- कियोसाकी का तर्क है कि निष्क्रिय आय धाराओं का निर्माण, जैसे किराये की संपत्ति या व्यवसाय जो आपकी निरंतर भागीदारी के बिना संचालित हो सकते हैं, वित्तीय सफलता के लिए महत्वपूर्ण है।
  4. आय के एक ही स्रोत पर निर्भर रहने के खतरे (The dangers of relying on a single source of income) :- कियोसाकी एक ही नौकरी या आय के स्रोत पर निर्भर रहने की सलाह देता है, क्योंकि यह आपको आर्थिक मंदी या नौकरी छूटने के प्रति संवेदनशील बना सकता है।
  5. उद्यमशीलता का मूल्य (The value of entrepreneurship) :- पुस्तक वित्तीय स्वतंत्रता हासिल करने के तरीके के रूप में अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के विचार को बढ़ावा देती है।
  6. वित्तीय सफलता में मानसिकता की भूमिका (The role of mindset in financial success) :- कियोसाकी का तर्क है कि एक "समृद्ध" मानसिकता, जो विकास और प्रचुरता पर केंद्रित है, वित्तीय सफलता प्राप्त करने के लिए आवश्यक है।


ऐसा क्‍या है जिससे लोग अमीर बन सकते हैं ?How to become millionaire. 

        एक अलग नजरिया ही है जो इंसान को अमीर और गरीब बनाता है। गरीब व्‍यक्ति बोलता है कि पैसे से प्रेम ही सभी समस्‍याओं(Problems) की जड़ है, लेकिन एक अमीर आदमी जानता है कि पैसे से प्रेम सभी समस्‍याओं की जड़ नहीं है बल्कि पैसे की कमी(Lack of Money) ही सारी समस्‍याओं की जड़ है इसलिए हमें पैसे की कमी को दूर करने पर काम करना चाहिए।

हिन्‍दी रोचक कहानियां :-

  1. बंदर को कैसे पकड़ते हैं (Motivational story in hindi)?
  2. कुम्‍हार की अ‍द्भुत कहानी (Motivational story in hindi)।
  3. जो हुआ अच्‍छा हुआ (Motivational story in hindi)।
  4. चूहे की कहानी (Motivational story in hindi)।
  5. नजरिया ही सफलता की चाबी है (Motivational story in hindi)।
  6. पंडित जी और बकरी की शानदार कहानी (Motivational story in hindi)।
  7. बुजुर्ग व्‍यापारी की जबरदस्‍त मोटिवेशनल स्‍टोरी 2024 (5 Best Motivational Quotes in hindi)

how to make money, online paisa kaise kamayen, adda stocks share market


पैसे की कमी को दूर कैसे करें ?How to make money.

1.   अमीर लोग पैसे के लिए काम नहीं करते वह पैसे से अपने लिए काम कराते हैं

                 एक गरीब व्‍यक्ति हमेशा पैसे के लिए काम करता है वह 9 से 5 तक नौकरी(Job) पर जाता है और महीने की 1 तारीख का इंतजार करता है सैलरी के लिए और ऐसे ही चलता रहता है। वह सोचता है कि थोडी सैलरी और बड़ जाए तो मैं अमीर बन सकता हूं लेकिन ऐसा नहीं होता और वह चूहा दौड में फंस जाता है। सफल व्‍यक्ति वह होता है जो पैसे से अपने लिए काम कराता है वह एक व्‍यक्ति को काम पर रखता है उसको 5 हजार महीने की सैलरी देता है और उससे लाखों का काम खुद के लिए कराता है। इसीलिए सबसे पहले अपना खुद का व्‍यवसाय(Business) करने के लिए प्रयास करें भले ही वह व्‍यवसाय छोटा ही क्‍यों न हो पैसे से अपने लिए काम कराएं न कि पैसे के लिए काम करें।

2.    कितना पैसा कमाते हैं यह जरूरी नहीं है जरूरी यह है कि हमारा कितना पैसा हमें पैसे कमा कर देता है – 

                   यह कैसे संभव है कि हमारा पैसा हमारे लिए काम करे ? यह संभव है और यही कारण है कि अमीर लोग और अमीर बनते जाते हैं। अमीर लोग अपने पैसे को सही जगह निवेश(Invest) करते हैं नए - नए व्‍यापार में लगाते हैं जिससे और पैसा आता है और यही कारण है कि अमीर लोग और अमीर होते जाते हैं।


3.   सम्‍पत्तियों और दायित्‍वों में फर्क पता होना चाहिए- Buy assets.

               हमें बस इतना ही जानने की जरूरत है कि संपत्ति क्‍या है और  फिर हम उसे हासिल करें और इसके बाद हम अमीर बन जाएँगे क्‍योंकि अमीर लोग संपत्तियां इकट्ठी करते हैं। गरीब और मध्‍यमवर्गीय लोग दायित्‍व इकट्ठे करते हैं और इन्‍हें सम्‍पत्तियां मानते हैं। आपको संपत्ति और दायित्‍व का फर्क पता होना चाहिए, और हमेशा संपत्तियां ही खरीदनी चाहिए।

4.    अपनी संपत्ति में विविधता लाएं - Diversify your assets 

        पुस्तक पाठकों को अपनी संपत्ति में विविधता लाने के लिए प्रोत्साहित करती है और सुरक्षा के किसी एक स्रोत, जैसे कि नौकरी या पेंशन पर भरोसा नहीं करती, क्योंकि नौकरी या तो सरकार के भरोसे पर चलती है या तो किसी अन्‍य व्‍यक्ति के ऊपर निर्भर होती है, और नौकरी में कब क्‍या हो जाए ये भी पता नहीं रहता इसलिए हमें अपनी बनाई हुई संपत्तियों को और बढाना चाहिए जिससे हमारे पास और अलग-अलग जगह से पैसा आता रहे।

अमीर बनना इतना आसान है तो दुनिया का हर इंसान अमीर क्‍यों नहीं है ? Tip of Success.

1.  अमीर तो सब होना चाहते हैं लेकिन लोग संपत्ति(Asset) और दायित्‍व(Liablities) के बीच का फर्क नहीं जानते  यही कारण है जिसकी वजह से भी लोग अमीर नहीं बन पाते या कहें कि पैैसे के लिए परेशान होते रहते हैं ।

1. संपत्ति(Asset)  – संपत्तियां आपकी जेब में पैसे डालती हैं। जैसे – रियल एस्‍टेट, शेयर(Share Market), बॉण्‍ड्स, नोट्स, बौद्धिक संपदा आदि।

2. दायित्‍व(Liablities) – दायित्‍व आपकी जेब से पैसे बाहर निकालता है। जैसे – मॉर्गेज, कार लोन, क्रैडिट कार्ड का कर्ज, स्‍कूल लोन, होम लोन, आदि।

2.      कई लोग यह गलती करते हैं कि कर्ज से पैसा लेकर निवेश करते या बिजनेस स्‍टार्ट करते हैं फिर कर्ज कि वजह से वह अपने बिजनेस को सही तरीके से नहीं चला पाते और असफल हो जाते हैं।

3.      रिच डैड पूअर डैड किताब में जो टैक्‍स(Tax) संबंधी बातें बताई गई हैं वह उनके क्षेत्र के अनुसार है तो अपने क्षेत्र में जो लोन और टैक्‍स हम लेते है उस पर ज्‍यादा विचार करना चाहिए क्‍योंकि कई लोग लोन तो ले लेते है पर उनके टैक्‍स और ब्‍याज में फस कर खुद को कंगाल कर लेते हैं। तो हमें यहॉ पर थोडी सावधानी रखनी है।


best dividend stock 2023, addastocks, best dividend share in India, best dividend paying stocks 2023,

        हालांकि, निवेशकों के लिए यह आवश्यक है कि वे अपनी निवेश रणनीतियों का अनुकूलन करने और दीर्घकालिक (Long term) आय (Income)  के साधन बनाने में जोखिमों को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने के लिए नियमित रूप से अपने ज्ञान को बढाते रहें, वित्तीय सलाहकारों से परामर्श करें और बाजार की स्थितियों की निगरानी करें।


यह भी पढ़ें:-





म्‍यूचु‍अल फंड क्‍या है? Mutual fund kya hai in hindi ? म्‍यूचुअल फंड का सम्‍पूर्ण ज्ञान।Full information of mutual funds in hindi

पैनी स्‍टॉक क्‍या है? | टॉप 10 बेस्‍ट पैनी स्‍टॉक लिस्‍ट । What is penny stocks in hindi । Penny stocks to buy in 2023 । Top 10 Best penny stocks to buy in India.

शेयर मार्केट में पैसा कैसे कमाएं ? How to earn money in share market?

संपत्तियां क्या होती हैं? Defination of Success.




Thanks to visit addastocks.com

 

 

 

 

 

Post a Comment

0 Comments