Breaking News

header ads
header ads

Share market kyu gir raha hai in hindi | शेयर मार्केट गिर क्‍यूं रहा है | शेयर मार्केट गिरने का कारण क्या है | share market girne ka karan hote hain in hindi

शेयर मार्केट गिरने का कारण क्या है
Share market girne ka karan hote hain


Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com


        इसे समझना बहुत ही आसान है जैसे कि दिन हाेता है तो रात भी आती है अच्‍छा होता है तो बुरा भी होता है जिस तरह जीवन में उतार-चढाव(Ups & Down) आते हैं उसी तरह बिजनेस में भी उतार-चढाव(Ups & Down) आते रहते हैं।

        इसी तरह शेयर बाजार (Share market) में भी उतार-चढाव आते हैं। इसमें भी एक समय ऐसा होता है जब शेयर मार्केट ऊपर ऊपर और ऊपर जा रहा होता है लेकिन एक समय ऐसा भी आता है जब लगातार ऊपर जाता हुआ मार्केट एक दम से नीचे गिर जाता है और सभी निवेशकों (Investors) और ट्रेडरों (Traders) को नुकसान होने लगता है।

अचानक से शेयर मार्केट गिर क्‍यूं रहा है  
Share market kyu gir raha hai 


stock market crash, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com
    जब शेयर मार्केट में सकारात्‍मकता (Positivity) होती है तो शेयर मार्केट ऊपर जा रहा होता है लेकिन जैसे ही मार्केट में कोई नकारात्‍मक (Negative) खबर (News) आती है तो शेयर मार्केट में निवेशक (Investor) और ट्रेडर (Trader) डर जाते हैं और फलस्‍वरूप मार्केट में अचानक से गिरावट आने लगती है।

    क्‍योंकि सभी लोग शेयर बेच रहे होते हैं इस कारण मार्केट लगातार नीचे जाने लगता है और शेयर मार्केट गिर (Share market fall) जाता है। इसे ही लोग मार्केट क्रैश (Market Crash) होना बोलते हैं।

stock market crash, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, adda stocks.com


जब शेयर बाजार में मार्केट क्रैश (Stock Market Crash) की स्थिति बनती है या मार्केट में नकारात्‍मक खबर आती है तो रिटेल इन्‍वेस्‍टर या जो लोग शेयर मार्केट (share Bazar) में नए होते हैं वह घबरा जाते हैं और अपने सारे शेयर बेचने लगते हैं।

    यही शेयर मार्केट गिरने (Stock market fall) का कारण होता है, लेकिन सबसे जरूरी बात यह पता लगाना होता है कि ऐसी कौनसी नकारात्‍मक खबर (Negative news) या घटना है जिसके कारण शेयर मार्केट गिर (Stock Market falling) रहा है। 

    इससे हम तैयार हो जाते हैं आने वाले समय में शेयर बाजार से अच्‍छा पैसा कमाने के लिए क्‍योंकि हमें पता होता है कि जब भी बाजार में करेक्‍शन हो तो हमें अपने पोर्टफोलियो (Portfolio) में कौन से शेयर को रखना है।


शेयर मार्केट गिरने का कारण क्या है 
share market girne ka karan hote hain

मार्केट क्रैश होने के क्या कारण हैं, stock market crash reason , stock market fall, addastocks

        शेयर मार्केट गिरने (Stock market fall) के कई कारण हो सकते हैं, और किसी विशिष्ट कारण को इंगित करना मुश्किल हो सकता है। शेयर मार्केट गिरने (Stock market fall)  के कुछ संभावित कारण आगे दिये गए हैं:

  1. आर्थिक कारक (Economic factors): नौकरी की रिपोर्ट, सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि, मुद्रास्फीति (inflation) की दर और ब्याज दरों जैसे आर्थिक आंकड़े जारी होने से निवेशक भावना प्रभावित हो सकती है और स्टॉक की कीमतों (Share Price) में गिरावट में योगदान कर सकते हैं।

  2. भू-राजनीतिक तनाव(Geopolitical tensions): राजनीतिक अस्थिरता, देशों के बीच व्यापार तनाव और भू-राजनीतिक जोखिम (Geopolitical tensions) बाजार में अस्थिरता और शेयर की कीमतों (Share Price) में गिरावट का कारण बन सकते हैं।

    share market crash, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, adda stocks.com

  3. कंपनी-विशिष्ट कारक(Company-specific factors): किसी विशिष्ट कंपनी से संबंधित नकारात्मक समाचार (Negative News) या घटनाएँ (Insidends), जैसे कमाई में गिरावट या प्रबंधन घोटाला, निवेशकों (Investors) को कंपनी में विश्वास खोने का कारण बन सकता है, जिससे शेयर की कीमतों में गिरावट आती है। जैसे- किसी कम्‍पनी के ऊपर इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट का छापा पडने की खबर से कम्‍पनी के शेयरों में गिरावट का आना।

  4. प्राकृतिक आपदाएँ(Natural disasters): प्राकृतिक आपदाएँ, जैसे कि तूफान, बाढ़ और जंगल की आग, महत्वपूर्ण आर्थिक क्षति (significant economic loss) का कारण बन सकती हैं और स्टॉक की कीमतों में गिरावट (share price fall) ला सकती हैं। जैसे:- भूकंंप  आदि।

    share market crash, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com

  5. वैश्विक घटनाएँ(Global events): प्रमुख वैश्विक घटनाएँ, जैसे महामारी, युद्ध और आतंकवादी हमले, शेयर बाजार  में अनिश्चितता (stock market uncertainty) और अस्थिरता (volatility) पैदा कर सकते हैं। जैसे:- रूस और यूक्रेन का युद्ध, कोरोना(Covid-19) आदि।
ये सभी तत्‍कालीन(Current Situation) उदाहरण है ऐसे और कई घटनाएं हो सकती हैं जिनसे शेयर बाजार (stock market) पर फर्क(Effect) पड सकता है।

    यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि शेयर बाजार (Share market) जटिल और गतिशील है, और अक्सर ऐसे कई कारक होते हैं जो बाजार की गतिविधियों में योगदान कर सकते हैं।

What to do in share market crash, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com

    एक निवेशक (Investor) के रूप में, सूचित रहना और संभावित जोखिमों (Risk) और अनिश्चितताओं (uncertainty) को ध्यान में रखते हुए लंबी अवधि की निवेश रणनीति बनाना महत्वपूर्ण है। यदि आप शेयर बाजार (Share market) या अपने निवेश (Investment) के बारे में चिंतित हैं, तो वित्तीय सलाहकार से परामर्श (advice) करना हमेशा एक अच्छा विचार है।

यह भी जानें:-

  1. शेयर बाजार की सम्‍पूर्ण जानकारी।
  2. एसआईपी (SIP) क्‍या है?
  3. इंट्राडे ट्रेडिंग क्‍या है?
  4. पैनी स्‍टॉक क्‍या है?
  5. ट्रेडिंग क्‍या है?
  6. अच्‍छे शेयर कैसे चुनें?
  7. स्‍टॉक मार्केट क्रैश क्‍या है?
    

जब शेयर मार्केट गिर रहा हो तब क्‍या करें और क्‍या न करें?
What to do in stock market crash

share market crash, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com, stock market in hindi

    स्टॉक मार्केट क्रैश (Stock market fall) निवेशकों के लिए एक नर्वस-ब्रेकिंग अनुभव हो सकता है। हालांकि, कुछ ऐसे उपाय हैं जो आपको अशांति से निपटने में मदद कर सकते हैं और आपके नुकसान (Loss) को कम कर सकते हैं:

स्‍टॉक मार्केट क्रैश (Stock market fall) पर क्‍या करना चाहिए? Must Do.

  1. शांत रहें (Stay Calm) : स्टॉक मार्केट क्रैश (Stock market fall) के दौरान सबसे पहली बात यह है कि शांत रहें और डर या घबराहट के आधार पर जल्दबाजी में निर्णय लेने से बचें।

  2. अपने पोर्टफोलियो को डायवर्सिफाई करें (Diversify your Portfolio) : एक डायवर्सिफाइड पोर्टफोलियो मार्केट क्रैश (stock market crash) के दौरान आपके नुकसान को कम करने में मदद कर सकता है। अपने निवेश को विभिन्न क्षेत्रों और परिसंपत्ति वर्गों में फैलाएं, ताकि यदि एक क्षेत्र प्रभावित होता है, तो अन्य क्षेत्र अभी भी प्रदर्शन कर सकें।

    stock market crash, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com, stock market in hindi

  3. अपने पोर्टफोलियो को पुनर्संतुलित करें(Rebalance your portfolio) : मार्केट क्रैश(Stock market Crash) में, कुछ स्टॉक दूसरों की तुलना में अधिक मूल्य खो सकते हैं, जिससे आपका पोर्टफोलियो असंतुलित हो जाता है। अपने पोर्टफोलियो को पुनर्संतुलित (Balance) करने से आपको अपने जोखिम (Risk) को कम करने और अपने वांछित परिसंपत्ति आवंटन को बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

  4. गुणवत्ता वाले शेयरों में निवेश करें(Invest in quality stocks) : बाजार में गिरावट के दौरान, निवेशक अक्सर मजबूत वित्तीय स्थिति और स्थिर कमाई के इतिहास वाले गुणवत्ता वाले शेयरों में निवेश करते हैं। बाजार के ठीक होने पर इन शेयरों में अन्य शेयरों की तुलना में तेजी से वापसी की संभावना है।

    najariya, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com, stock market in hindi

  5. लंबी अवधि का नजरिया रखें(Have a long-term perspective) : शेयर बाजार स्वाभाविक रूप से अस्थिर है और उतार-चढ़ाव का अनुभव करता है। लंबी अवधि के नजरिए से आप बाजार के उतार-चढ़ाव से बच सकते हैं और आवेगी निर्णय लेने से बच सकते हैं।

स्‍टॉक मार्केट क्रैश पर क्‍या नहीं करना चाहिए? Don't Do.


  1. घबराएं नहीं (Don't panic) : बाजार में गिरावट के दौरान आप जो सबसे बड़ी गलती कर सकते हैं, वह है घबराना और अपने निवेश को बेचना। इससे नुकसान हो सकता है जिससे आप उबर नहीं पाएंगे। एक स्तरीय सिर रखें और शांत रहें।

    stock market news, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com, stock market in hindi

  2. अल्पावधि में अपनी आवश्यकता के धन का निवेश न करे (Don't Invest Your Emergency Fund) : यदि आपको अल्पावधि में अपने धन की आवश्यकता है, तो शेयर बाजार में निवेश करना एक अच्छा विचार नहीं है। इसके बजाय, बचत खातों या सीडी जैसे अधिक स्थिर विकल्पों में निवेश करने पर विचार करें।

  3. अपने सभी अंडे एक टोकरी में न रखें (don't put all eggs in one basket) : जोखिम कम करने के लिए अपने पोर्टफोलियो में विविधता लाएं। अपने जोखिम को फैलाने के लिए स्टॉक, बॉन्ड और अन्य संपत्तियों के मिश्रण में निवेश करें।

  4. अपने निवेशों को नज़रअंदाज़ न करें (Don't Ignore Your Investment) : अपने निवेशों के शीर्ष पर बने रहें और सुनिश्चित करें कि वे अभी भी आपके लक्ष्यों के अनुरूप हैं। यदि आवश्यक हो तो अपने पोर्टफोलियो को पुनर्संतुलित करें।

    stock market news, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com, stock market in hindi

  5. एक ही स्टॉक में निवेश न करें(Don't invest in a single stock) : एक ही स्टॉक में निवेश करना जोखिम भरा हो सकता है क्योंकि अगर उस कंपनी को वित्तीय संकट का सामना करना पड़ता है, तो आपका पूरा निवेश खत्म हो सकता है। इसके बजाय, स्टॉक, बॉन्ड और अन्य संपत्तियों के विविध मिश्रण में निवेश करने पर विचार करें।

  6. निवेश करने के लिए उधार न लें (Don't borrow to invest) : शेयर बाजार में निवेश करने के लिए कर्ज लेना जोखिम भरा हो सकता है, खासकर बाजार में गिरावट के दौरान। उधार लेने से बचना और केवल वही निवेश करना सबसे अच्छा है जो आप खो सकते हैं।

  7. अपने इमरजेंसी फंड के बारे में न भूलें (Don't forget about your emergency fund) : एक इमरजेंसी फंड होना जरूरी है जो नौकरी छूटने या अन्य वित्तीय झटके के मामले में कम से कम छह महीने के लिए आपके खर्चों को कवर कर सके। यह मंदी के दौरान अपने निवेश को बेचने से बचने में आपकी मदद कर सकता है।

    stock market news in hindi, Share market gir kyu raha hai, Stock market girne ke karan, addastocks.com, stock market in hindi

  8. लंबी अवधि के रुझान को नजरअंदाज न करें (Don't ignore the long-term trend) : कभी-कभी गिरावट के बावजूद, शेयर बाजार ऐतिहासिक रूप से लंबी अवधि में ऊपर की ओर चला गया है। इसका मतलब यह है कि यदि आप निवेशित रहते हैं और मंदी से बाहर निकलते हैं, तो भी आप दीर्घावधि वृद्धि और प्रतिफल प्राप्त कर सकते हैं
    कुल मिलाकर, शांत रहना और अपने दीर्घकालिक निवेश लक्ष्यों पर ध्यान केंद्रित करना महत्वपूर्ण है। जल्दबाज़ी में फ़ैसले लेने से बचें और अगर ऐसा हो तो किसी वित्तीय पेशेवर से सलाह लें।

best dividend stock 2023, addastocks, best dividend share in India, best dividend paying stocks 2023,

        हालांकि, निवेशकों के लिए यह आवश्यक है कि वे अपनी निवेश रणनीतियों का अनुकूलन करने और दीर्घकालिक आय सृजन की खोज में जोखिमों को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने के लिए नियमित रूप से अपने उचित परिश्रम का संचालन करें, वित्तीय सलाहकारों से परामर्श करें और बाजार की स्थितियों की निगरानी करें।




यह भी पढ़ें:-






एसआईपी क्‍या है सम्‍पूर्ण जानकारी । एसआईपी में निवेश कैसे करें हिन्‍दी में। How to Invest in SIP in Hindi । SIP Kya Hai In Hindi । SIP in India.


शेयर मार्केट में ट्रेडिंग क्‍या होती है? । शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने से पहले ये कहानी जानना जरूरी है। What is Trading in share market? 


 

Thanks to visit addastocks.com


Post a Comment

0 Comments